ईमेल द्वारा ब्लोगिंग करें

ब्लॉगर में यह सुविधा बहुत दिनों से है। परन्तु बहुत सारे लोग इस बात से अनजान हैं। विधि बिल्कुल सीधी है।

  • ब्लॉगर में लॉग-इन करें.
  • अपने ब्लॉग की Settings -> Email पर जायें.
  • चित्र में दिखाये गये जगह पर कोइ भी गुप्त शब्द भरें.(गुप्त इसलिये क्युँकि इस शब्द की जानकारी वाला इंसान आपके ब्लोग पर पोस्ट कर सकेगा)
  • Save Settings पर क्लिक करें।
  • अब पोस्ट करने के लिये सीधे सीधे इस नये ईमेल का प्रयोग कर सकते हैं.



उदाहरण के तौर पर अगर मुझे इस ब्लोग पर कोई पोस्ट करनी है तो मैं contactvikash716.my_secret_word@blogger.com पर एक मेल लिखूँगा. मेल का विषय होगा- अपेक्षित पोस्ट का शीर्षक तथा पोस्ट मेल में लिखी जायेगी.

आप सब भी एक कोशिश कर के देखिये. ब्लोगर जब समस्याग्रस्त हो जाये या ऑफिस में ब्लोगर ना खुले - तब इस तरह से आप निर्विघ्न पोस्ट कर सकेंगे.

10 comments:

संजय तिवारी

November 29, 2007 at 4:29 PM

यह ब्लाग शुरू करने के लिए आपको ढेरों शुभकामनाएं.
मेरी एक पुरानी शिकायत दूर हो गयी. शायद आप वही हैं जिनकी एक पोस्ट पर मैंने आईआईटी में हिन्दी को लेकर कुछ लिखा था.

अब सीखने-सिखाने का यह क्रम लंबा चलना चाहिए.

विकास कुमार

November 29, 2007 at 4:58 PM

हाँ संजय जी! मैं वही हूँ. :)
कोशिश रहेगी कि यथाशक्ति इस कार्य को नियमित तौर पर करता रहूँ. अब आपकी शिकायत भी दूर हो ही गयी है तो आते रहियेगा.

Vijay Wadnere

November 29, 2007 at 5:03 PM

हाँ यह एक अच्छी सुविधा है.
मगर एक दिक्कत हो सकती है. अधिकतर मुफ़्त इमेल (वेबमेल) आपकी मेल भेजते समय उसमें अपना एक संदेश उसमें जोड देते हैं, और कंपनी के इमेल से भेजते समय कंपनी का डिस्क्लेमर इत्यादि होता है.

अगर आप उससे निजात पा सकें तो बेहतर होगा.

वैसे जीमेल अपनी तरफ़ से आपकी मेल में कुछ नहीं जोडता. :)

शास्त्री जे सी फिलिप्

November 29, 2007 at 5:58 PM

बहुत बढिया बात बताई आप ने. शुक्रिया. यदि विन्डोज लाईव राईटर का उपयोग करें तो विज्ञापन की समस्या हल हो सकती है -- शास्त्री

हिन्दी ही हिन्दुस्तान को एक सूत्र में पिरो सकती है.
हर महीने कम से कम एक हिन्दी पुस्तक खरीदें !
मैं और आप नहीं तो क्या विदेशी लोग हिन्दी
लेखकों को प्रोत्साहन देंगे ??

अभय तिवारी

November 30, 2007 at 10:53 AM

मुझे तो नहीं अजित वडनेरकर जी को ऐसी तकलीफ़ का सामना करना पड़ा बीच में.. अब पता चल गया है.. तो हम तैयार हैं.. बहुत अच्छे विकास.. लगे रहो.. !

vimal verma

November 30, 2007 at 1:01 PM

क्या ब्ळॉगर बुद्धि पाई है, आप तो मन की बात भी जानने लगे हैं, ये तरीका जंच रहा है कोशिश करके देखते हैं, शुक्रिया मित्र

अजित वडनेरकर

November 30, 2007 at 2:03 PM

बहुत अच्छी तरकीब है। लेकिन ऊपर वाले बॉक्स में क्या लिखना है जिसके आगे BlogSend Address लिखा है ..

विकास कुमार

November 30, 2007 at 2:10 PM

अजित जी! ऊपर वाले बौक्स का प्रयोग करने का मतलब है कि आपके द्वारा लिखी गयी हर पोस्ट उस पते पर ईमेल की जायेगी. सो, अगर आप अपने पोस्ट की एक प्रति मेल्बौक्स में भी पाना चाहते हैं तो उसका उपयोग करें.

Sanjay

December 1, 2007 at 2:00 AM

'contactvikash716.my_secret_word@blogger.com'....
क्‍या इस मैजिक वर्ड का इस्‍तेमाल करने से आपके चिट्ठे पर पोस्‍ट लग जाएगी?
हें हें हें....!! नहीं ... बस यूं ही पूछ लिया.
अच्‍छी जानकारी दे रहे हैं. पर कुछ बाहर का माल भी तो लाओ भाई. ये सब मगजमारी तो पहले ही कर चुके हैं.

Sanjeet Tripathi

December 1, 2007 at 6:23 PM

बंधु ई पंडित तो एक जमाने से गायब है, अब आप उनकी जगह ले रहे हैं कम से कम हम कम दिमागी ब्लॉगर्स को तकनीकी समझाने के लिए!!

शुक्रिया!!!